Wednesday, April 30, 2008

ईश्‍वर रक्षा करे हिंदी की


हिंदी में अनुवाद के गडबडझाले आपने खूब देखे होंगे। अर्थ का अनर्थ संता बता या लालूजी जोक में खूब सुने और सुनाए होंगे। पर अपन की सरकार और उसकी यह राष्ट्रभाषा हिंदी का हाल देखिए जरा।
तिगडी खानपुर के पास वायुसेनाबाद में लगे इस बोर्ड में डिफेंस लैंड की हिंदी की गई है रक्षा भुमि। अब तो साफ है हिंदुस्‍तान में शायद हिंदी की रक्षा ईश्‍वर ही कर पाए, सेना ने भी पल्‍ला झाडा!
यह चित्र दैनिक हिंदुस्‍तान, नई दिल्‍ली ने एक मई को प्रकाशित किया है।

3 comments:

Udan Tashtari said...

:( रोऊँ कि सर फोडूं.

संजय बेंगाणी said...

":( रोऊँ कि सर फोडूं."

सर फोड़ें अनुवादक का >:

Kirtish Bhatt, Cartoonist said...

अब क्या कहें ...